25 May, 2019

आलिया भट्ट ने 'द टाइम्स मोस्ट डिजायरेबल वुमन' की लिस्ट में टॉप पर

ब्यूटीफुल, बिंदास और लाखों दिलों की धड़कन आलिया भट्ट ने 'द टाइम्स मोस्ट डिजायरेबल वुमन' की लिस्ट में टॉप पर अपना नाम दर्ज किया। कम उम्र में आलिया भट्ट ने बॉलीवुड की जानीमानी एक्ट्रेसेस को पछाड़ दिया है.

किसने जीता कौन सा अवॉर्ड-
अंधाधुन- बेस्ट फिल्म, बेस्ट डायरेक्टर– श्रीराम राघवन (अंधाधुन)
मनोज पहवा- बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर (मुल्क)
बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस– सुरेखा सिकरी (बधाई हो)
बेस्ट सांग– हल्ला (मनमर्जियां)
पूजा लाधा- बेस्ट एडिटर (अंधाधुन)
श्रीराम राघवन,हेमंत राव , योगेश चंद्रशेखर, अरिजीत बिसवास- बेस्ट राइटिंग (अंधाधुन)
पंकज कुमार -बेस्ट सिनेमेटोग्राफी (तुम्बाड)
बेस्ट फिल्म इन तमिल– परियेरुम पेरुमल
बेस्ट फिल्म इन मलयालम– ई मा यू
बेस्ट फिल्म इन गुजराती– तत्वमसि
एक्स्ट्राऑर्डिनरी अचीवमेंट अवार्ड– रेशमा पठान

The Hindu

अल्जीरिया और अर्जेंटीना को मलेरिया से मुक्त घोषित किया

अफ्रीकी देश अल्जीरिया और अमेरिकी देश अर्जेंटीना को मच्छरों से होने वाली जानलेवा बीमारी मलेरिया से मुक्त घोषित कर दिया गया है। संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने बुधवार को अल्जीरिया और अर्जेंटीना के मलेरिया मुक्त होने की घोषणा की। डब्ल्यूएचओ की विश्व मलेरिया रिपोर्ट 2018 के अनुसार, यह 87 देशों से अनुमानित 219 मिलियन मामलों और 2017 में 400,000 से अधिक संबंधित मौतों के लिए जिम्मेदार है। एक अनुमान के मुताबिक वर्ष 2017 में दुनियाभर में 21.9 करोड़ लोग मलेरिया से पीड़ित रहे। इससे पहले 2016 में पीड़ितों की संख्या 21.7 करोड़ थी। हालांकि, पूर्व के वर्षों में रोगियों की संख्या में तेजी से कमी आ रही थी।

The Hindu

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कजाकस्तान में शंघाई सहयोग संगठन की बैठक में हिस्सा लेंगे

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कजाकस्तान में 8 और 9 जून को होने वाली शंघाई सहयोग संगठन की बैठक में हिस्सा लेंगे। कजाकस्तान के साथ पारंपरिक रूप से भारत के रिश्ते बहुत अच्छे रहे हैं और अगर भारत मध्य एशिया में अपनी स्थिति मजबूत करना चाहता है तो इसके साथ इसे और भी अच्छे रिश्ते की दरकार है।
इससे भारत को और क्या क्या फायदे होने के आसार हैं
 इससे भारत को मध्य एशिया की चुनौतियों और समस्याओं में महत्वपूर्ण रोल निभाने का मौका मिलेगा
पाकिस्तान लगातार भारत के खिलाफ आतंकवाद को बढ़ावा दिया है लेकिन जब इस संगठन में शामिल होने के बावजूद अगर पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आता है, तो भारत के पास उसपर दबाव बनाने का बड़ा मौका हाथ लगेगा।
आतंकवाद के मसले पर रूस के लिए भारत का सहयोग करना और भी आसान हो जायेगा।

शंघाई सहयोग संगठन क्या है
साल 1996 में रूस, चीन, ताजिकिस्तान, कजाकस्तान और किर्गिस्तान जैसे देशों ने आपसी तालमेल और सहयोग को लेकर सहमत हुए थे और तब इस शंघाई-5 के नाम से जाना जाता था।

The Hindu

पाकिस्तान ने बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन-II का सफलतापूर्वक परीक्षण किया

पाकिस्तान ने बृहस्पतिवार को सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन-II का सफलतापूर्वक परीक्षण किया, जो 1,500 किलोमीटर दूर तक के लक्ष्य को भेदने में सक्षम है।  यह मिसाइल टेस्‍ट अरब सागर में किया गया। यह परीक्षण आर्मी स्ट्रैटेजिक फोर्सेज कमांड की परिचालन संबंधी तैयारी सुनिश्चित करने के मकसद से किया गया है।

The Hindu

भावना IAF की पहली महिला पायलट

भावना कॉम्बेट मिशन पर जाने की योग्यता हासिल करने वाली IAF की पहली महिला पायलट बन गईं  जिन्होंने फाइटर जेट में कॉम्बेट मिशन पर जाने की योग्‍यता हासिल की है। वायुसेना की फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ ने अकेले मिग 21 बाइसन उड़ाकर इतिहास रचा था. भावना कंठ भारतीय वायुसेना का पहले महिला फाइटर पायलट के बैच से हैं, उन्होंने नवम्बर, 2017 में फाइटर स्क्वाड्रन को ज्वाइन किया था।
फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत की ट्रेनिंग के इस चरण के पूरे होने के बाद वह अब दिन के वक्त किसी भी चुनौती के लिए तैयार हैं। वो जंग के वक्त भी अब फायटर प्लेन उड़ा सकती हैं।
भावना के पिता इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन में इंजीनियर हैं। बेगुसराय के बरौनी रिफाइनरी के डीएवी पब्लिक स्कूल से पढ़ाई करने के बाद भावना ने बीएमएस कॉलेज, बेंगलौर से इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की।

The Hindu

फीफा ने 48 टीमों को शामिल करने के प्रस्ताव को रद्द किया

विश्व फुटबॉल नियामक संस्था (फीफा) ने कहा है कि 2022 में कतर में होने वाले विश्व कप में कुल 32 टीमें ही हिस्सा लेंगी। उम्मीद की जा रही थी कि अगले विश्व कप में कुल 48 टीमें हिस्सा ले सकती हैं। इन्फेंटिनो इस टूर्नामेंट का विस्तार कर इसमें 48 टीमों को शामिल करना चाहते थे लेकिन कतर के पड़ोसी देशों द्वारा प्रतिबंध लगने के कारण उनकी योजना खटाई में पड़ गयी। इन्फेंटिनो इस टूर्नामेंट का विस्तार कर इसमें 48 टीमों को शामिल करना चाहते थे लेकिन कतर के पड़ोसी देशों द्वारा प्रतिबंध लगने के कारण उनकी योजना खटाई में पड़ गयी।

The Hindu

अमेरिका में मानव शव से खाद बनाने को मंजूरी दी

अमेरिका में मानव शव से खाद बनाने को मंजूरी दे दी गई है। वॉशिंगटन इसे लागू करने वाला पहला राज्य होगा। वॉशिंगटन के गवर्नर ने इस बिल पर दस्तखत कर दिए। मई 2020 से लागू होने वाले इस नियम के तहत लोगों के पास अपने शव को कम्पोस्टिंग के लिए देने का विकल्प होगा। सिएटल की एक कंपनी रीकम्पोज ने सबसे पहले मानव खाद बनाने का ऑफर दिया था। मानव खाद के लिए कैटरीना ने वॉशिंगटन स्टेट यूनिवर्सिटी में बाकायदा ट्रायल भी किए। इसके लिए शव को स्टील के कंटेनर में सूखी घास, लकड़ियों और स्ट्रॉ के साथ 30 दिन तक बंद कर दिया गया। इस दौरान बैक्टीरिया ने शव को पूरी तरह डिकम्पोज कर दिया। प्रक्रिया से मिला उत्पाद सूखा और पोषक तत्वों से युक्त था, जिसका इस्तेमाल बगीचे में किया जा सकता था।

The Hindu

गुना में ज्योतिरादित्य ने स्वीकारी हार

कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश के गुना सीट पर बीजेपी प्रत्याशी के.पी. यादव से 1.25 लाख से अधिक वोट अंतर से हार मिली है। ज्योतिरादित्य के पिता माधवराव सिंधिया के निधन के बाद ज्योतिरादित्य लगातार 4 बार से इस सीट पर जीत रहे थे। खास बात यह है कि जिन केपी यादव से सिंधिया हार रहे हैं वह कभी उनके समर्थक हुआ करते थे। फरवरी 2018 में मुंगावली विधानसभा उपचुनाव में टिकट नहीं मिलने पर यादव भाजपा में शामिल हो गए थे। इसके पहले तक वह ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक हुआ करते थे।

The Hindu

मलयेशिया के सातवें बादशाह सुल्तान अहमद शाह का निधन

मलयेशिया के सातवें बादशाह और फुटबॉल दिग्गज सुल्तान अहमद शाह का बुधवार को 88 साल की उम्र में निधन हो गया। अहमद शाह मध्य पहांग राज्य के पांचवें सुल्तान भी थे. 1930 में पैदा हुए अहमद शाह को 1974 में पाहांग का पांचवां सुल्तान घोषित किया गया था। अहमद शाह का नाम फुटबॉल का एक पर्याय है क्योंकि इस खेल में उनकी गहरी रुचि के कारण राष्ट्रीय फुटबॉल के विकास के लिए उन्होंने अथक परिश्रम किया था। खराब सेहत के चलते उन्होंने जनवरी में पाहांग के सुल्तान का पद अपने बेटे को सौंपा था।

The Hindu

भारतीय वायुसेना ने दुनिया की सबसे तेज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस के 'एयर लॉन्‍च वर्जन' का सफल परीक्षण किया

भारतीय वायुसेना ने बुधवार को दुनिया की सबसे तेज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस के लड़ाकू विमान से छोड़े जाने वाले संस्‍करण का सफल परीक्षण किया। भारतीय वायुसेना ने ब्रह्मोस मिसाइल के हवाई संस्करण का परीक्षण Su-30 MKI एयरक्राफ्ट से दाग कर किया। यह परीक्षण सफल रहा, मिसाइल ने सटीकता से अपने लक्ष्य को भेदा। अब भारतीय वायुसेना बिना दुश्मन की सीमा में घुसे उनके ठिकानों को तबाह कर सकेगी।  भारतीय वायुसेना इस मिसाइल के जरिए देश के 150 किलोमीटर अंदर से ही बालाकोट जैसे हमले को अंजाम दे सकेगी। इसके लिए विमानों को सीमा पार करने की भी जरूरत नहीं होगी। ब्रह्मोस मिसाइल को हवा से छोड़े जाने का पहला परीक्षण जुलाई 2018 में सुखोई-30एमकेआई लड़ाकू विमान से बंगाल की खाड़ी के ऊपर किया गया था। यह मिसाइल रूसी मिसाइल पी-800 ओनिक्स पर आधारित है। इस मिसाइल का नाम भारत की नदी ब्रह्मपुत्र और रूस की नदी मोस्कवा के नाम को मिलाकर ‘ब्रह्मोस’ रखा गया है। यह हाइपरसोनिक संस्करण लगभग 2020 में परीक्षण के लिए तैयार होगा।
सुपरसोनिक ब्रहोस की विशेषताएं
• मिसाइल की रफ्तार 2-8 मैक (साउंड स्पीड)
• मिसाइल की रेंज 290 किमी
• 300 किग्रा युद्धक सामग्री ढोने की क्षमता
• रडार की पकड़ से बाहर
• 10 साल में 2000 ब्रहोस बनाएगा भारत

The Hindu