19 Jul, 2019

लार्सन एंड टुब्रो इन्फोटेक बेंगलुरु की कंपनी लिम्बाइक का 38 करोड़ रुपये में अधिग्रहण करेगी

लार्सन एंड टुब्रो इन्फोटेक (एलटीआई) ने बेंगलुरु की एडवांस्ड एनालिटिक्स कंपनी लिम्बाइक का अधिग्रहण किया है। सौदे के तहत उपक्रम का मूल्य 38 करोड़ रुपये है। डेटा खोज में Lymbyc की विशेषज्ञता, तेज एनालिटिक्स और बड़े डेटा सेट को संसाधित करने की क्षमता, विभेदित विश्लेषण समाधान प्रदान करने के लिए एलटीआई के मोज़ेक प्लेटफ़ॉर्म को परिष्कृत करेगी। लिम्बाइक की शेयर पूंजी का 100 प्रतिशत उपक्रम मूल्य 38 करोड़ रुपये बैठेगा। यह नकद मुक्त और ऋणमुक्त आधार पर होगा। यह सौदा अगले चार से छह सप्ताह में पूरा होने की उम्मीद है। Lymbyc एक बेंगलुरु-मुख्यालय वाली कंपनी है, जो एनालिटिक्स और डेटा साइंस स्पेस में अपनी क्षमताओं के लिए जानी जाती है।
लार्सन एंड टुब्रो इंफोटेक लिमिटेड के सीईओ: संजय जालोना।
लाईमबाइक के सीईओ: सत्यकाम मोहंती।

The Hindu

पलाऊ अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन का 76वां सदस्य बना

पलाऊ ने हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन के फ्रेमवर्क समझौते पर हस्ताक्षर किये। पलाऊ अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन का 76वां सदस्य है। पलाऊ ओशनिया में स्थित एक देश है, इसमें 500 से अधिक द्वीप शामिल हैं।
अंतर्राष्ट्रीय सोलर गठबंधन
अंतर्राष्ट्रीय सोलर गठबंधन की शुरुआत भारत और फ्रांस ने मिलकर नवम्बर 2015 में COP 21 संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन के दौरान की थी। इसका फ्रेमवर्क समझौता दिसम्बर, 2017 में लागू हुआ था। इसका स्थापना दिवस 11 मार्च, 2018 को मनाया गया था। इसका मुख्यालय हरियाणा के गुरुग्राम में राष्ट्रीय सौर उर्जा संस्थान (NISE) में स्थित है। यह ऐसी पहली अंतर्राष्ट्रीय अंतरसरकारी संधि है जिसका मुख्यालय भारत में स्थित है। ISA का उद्देश्य सौर उर्जा से परिपूर्ण देशों को एकजुट करके सौर उर्जा उत्पादन को बढ़ावा देना है। बड़ी मात्रा में सौर उर्जा उत्पादन के कारण इसकी उत्पादन लागत भी कम आएगी। सौर उर्जा उत्पादन के सदस्य देशों में अनुसन्धान व विकास कार्य में मिलकर काम करेंगे।

The Hindu

उत्तराखंड में पहली बार हिमालयन कॉन्क्लेव होगा

सांस्कृतिक, आर्थिक और पर्यावरणीय सरोकारों के लिए हिमालयी राज्यों को एक मंच पर लाने की कवायद शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की पहल पर उत्तराखंड में पहली बार 28 जुलाई से मसूरी में हिमालयी राज्यों का सम्मेलन होने जा रहा है। इसमें उत्तराखंड, हिमाचल समेत उत्तर पूर्वी हिमालयी राज्यों के मुख्यमंत्री, आलाधिकारी व विशेषज्ञ जुटेंगे, जो हिमालय के संरक्षण पर मंथन करेंगे। सम्मेलन की मेजबानी हिमालयी राज्यों- उत्तराखंड, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, सिक्किम, असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, नागालैंड, त्रिपुरा, मिजोरम और नागालैंड  के मुख्यमंत्रियों के साथ की जाएगी, जिसमें प्रशासक और विशेषज्ञ शामिल होंगे। सम्मेलन में चर्चाओं से नीति आयोग और वित्त आयोग को हिमालयी राज्यों में वर्तमान स्थिति से अवगत कराने और उन्हें बेहतर वित्तीय संसाधन मुहैया कराने में मदद मिलेगी।
उत्तराखंड के सीएम: त्रिवेंद्र सिंह रावत।
उत्तराखंड के राज्यपाल: बेबी रानी मौर्य।
उत्तराखंड की राजधानी: देहरादून।

The Hindu

एबिक्स बनेगी सबसे बड़ी ट्रैवल सर्विस कंपनी

अमेरिकी कंपनी ईबिक्स ने 337.8 मिलियन डॉलर में यात्रा पोर्टल यात्रा ऑनलाइन के अधिग्रहण की घोषणा की है। ईबिक्स ऑन-डिमांड सॉफ़्टवेयर और ई-कॉमर्स सेवाओं का प्रदाता है। इसके तहत एबिक्स गुड़गांव स्थित यात्रा के कर्ज और आउटस्टैंडिंग वॉरंट्स का भी भार वहन करेगा। दोनों के बीच हुए समझौते के तहत एबिक्स यात्रा के शेयरधारकों को 243,747 कनवर्टिबल प्रेफर्ड स्टॉक जारी करेगा। ये स्टॉक्स 4,874931 एबिक्स कॉमन स्टॉक्स में बदले जा सकेंगे। औसत 15 दिनों के आधार पर एबिक्स के शेयर की कीमत देखें तो यह 49.05 डॉलर है, यानी यात्रा के प्रत्येक सामान्य शेयर की कीमत 4.90 डॉलर होगी। EbixCash के दो अन्य ट्रैवल ब्रांड्स 'Via' और 'Mercury' के साथ यात्रा अपने ब्रांड के तहत ग्राहकों की सेवा करना जारी रखेगी। यात्रा भारत के "सबसे बड़ी और सबसे अधिक लाभदायक" यात्रा सेवा कंपनियों में से एक, Ebix के EbixCash यात्रा पोर्टफोलियो का हिस्सा बन गई है।
यात्रा ऑनलाइन के सीईओ: ध्रुव श्रृंगी; एबिक्स के सीईओ: रॉबिन रैना

The Hindu

भारत की चालू वित्‍त वर्ष में GDP ग्रोथ 7 प्रतिशत रहेगी

एशियन डेवलपमेंट बैंक (एडीबी) ने गुरुवार को भारत की सकल घरेलू उत्‍पाद (जीडीपी) की वृद्धि के अनुमान को घटाकर 7 प्रतिशत कर दिया है। एडीबी ने सरकार के राजस्‍व में कमी आने की चिंताओं के बीच अपने वृद्धि दर अनुमान को कम किया है। एडीबी ने अपने एशियाई विकास परिदृश्य-2019 में कहा, ‘‘ वित्त वर्ष 2018-19 के राजकोषीय घाटे से जुड़ी चिंताओं को देखते हुए भारत की आर्थिक वृद्धि दर 2019-20 में सात प्रतिशत और 2020-21 में 7.2 प्रतिशत रहने का अनुमान है। यह एडीबी के अप्रैल में जताए अनुमान से कम है।’’ हालांकि एडीबी ने दक्षिण एशियाई क्षेत्र की वृद्धि में तेजी के अनुमान को बरकरार रखा है। वर्ष 2019 में इस क्षेत्र की आर्थिक वृद्धि दर 6.6 प्रतिशत और 2020 में 6.7 प्रतिशत रहने का अनुमान है। भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बना रहेगा। आर्थिक वृद्धि के मामले में वह चीन से आगे रहेगा। 
एडीबी ने अपने एशियाई विकास परिदृश्य-2019 में कहा कि अमेरिका के साथ चल रहे ट्रेड वार की वजह से 2019 में चीन की आर्थिक वृद्धि दर 6.3 फीसदी और 2020 में 6.1% रहने का अनुमान है। अमेरिका के इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल फाइनेंस की रिपोर्ट के मुताबिक चीन पर जीडीपी का 303 प्रतिशत तक कर्ज हो गया है। ज्यादा कर्ज की वजह से चीन की अर्थव्यवस्था संकट में आ सकती है। रिपोर्ट के मुताबिक चीन का कॉर्पोरेट, घरेलू और सरकारी ऋण 2019 की पहली तिमाही में जीडीपी का 303% हो गया, जो एक साल पहले इसी अवधि में 297% था। चीन का कुल कर्ज 40 लाख करोड़ डॉलर से ज्यादा हो गया है। यह दुनिया के कुल कर्ज का 15 प्रतिशत है।

The Hindu

शहीदों के परिवार को अब महाराष्ट्र सरकार 1 करोड़ रुपये देगी

देश की सुरक्षा में शहीद हुए राज्य के सैनिकों के परिवारों को एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी। पहले शहीद हुए जवानों को महाराष्ट्र सरकार 25 लाख रुपये देती थी, जबकि घायल हुए सैनिकों को 60 लाख रुपये की आर्थिक मदद मिलेगी। 25 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ रुपये कर दिया गया है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मंगलवार को इस संबंध में घोषणा की। अनुदान वृद्धि का फैसला 1 जनवरी 2019 से लागू माना जाएगा। इसके साथ ही जवानों को 1 से 25 प्रतिशत दिव्यांगता आने पर अब 5 लाख की बजाय 20 लाख रुपए और 26 से 50 प्रतिशत दिव्यांगता होने पर 8.50 लाख की जगह 35 लाख रुपए दिए जाएंगे। जबकि दिव्यांगता का प्रमाण 51 से 100 प्रतिशत होने पर दी जाने वाली राशि 15 लाख को बढ़ाकर 60 लाख रुपए कर दिया गया है।

The Hindu

केंद्रीय कैबिनेट ने राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग विधेयक को मंजूरी दी

केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग (एनएमसी) विधेयक को मंजूरी दे दी जिसका उद्देश्य भारतीय चिकित्सा परिषद अधिनियम, 1956 की जगह लेना और चिकित्सकीय शिक्षा क्षेत्र में बड़े सुधार करना है। विधेयक को संसद के वर्तमान सत्र में पेश किया जाएगा। इसे दिसंबर 2017 में संसद में पेश किया गया था लेकिन यह 16वीं लोकसभा के भंग होने पर निष्प्रभावी हो गया था। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एनएमसी विधेयक में परास्नातक मेडिकल पाठ्यक्रमों में प्रवेश और मरीजों के इलाज हेतु लाइसेंस हासिल करने के लिए एक संयुक्त अंतिम वर्ष एमबीबीएस परीक्षा (नेशनल एक्जिट टेस्ट ‘नेक्स्ट’) का प्रस्ताव दिया गया है। भ्रष्टाचार रोकने और निजी स्कूलों की मनमानी फीस पर लगाम लगाने के लिए नेशनल मेडिकल कमीशन बिल के मसौदे को कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है। ऐसा होने के बाद  मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (Medical Council Of India, MCI) खत्म हो जाएगी और उसकी जगह नेशनल मेडिकल कमीशन (National Medical Commission, NMC) ले लेगी। एनएमसी विधेयक में किए संशोधन के अनुसार, पीजी पाठ्यक्रमों में प्रवेश ‘नेक्स्ट’ परीक्षा के परिणामों के आधार पर होगा जिसे देशभर में संयुक्त परीक्षा के तौर पर आयोजित किया जाएगा। इसलिए उम्मीदवारों को पीजी पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए एमबीबीएस अंतिम वर्ष पास करने के बाद अलग-अलग परीक्षाओं में नहीं बैठना पड़ेगा।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री: डॉ. हर्षवर्धन

The Hindu

बिल गेट्स को पछाड़ बर्नार्ड अरनॉल्ट दुनिया की दूसरी सबसे अमीर हस्ती बने

माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिलगेट्स से दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स का तमगा छिन गया है. यह उनके लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. लगातार सात साल तक बिलगेट्स दुनिया के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर बने रहे. लेकिन पिछले महीने ही टॉप 3 में पहुंचे बर्नार्ड अर्नाल्ट ने यह कर दिखाया। मंगलवार को आए ब्लूमबर्ग बिलियनेयर इंडेक्स में बिल गेट्स तीसरे पायदान पर खिसक गए और बर्नार्ड एक पायदान चढ़कर लिस्ट में दूसरे नंबर पर आ गए। लिस्ट में शामिल अमीरों में 13वें नंबर पर भारत के मुकेश अंबानी भी हैं। बर्नार्ड अरनॉल्ट हाल ही में ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स में टॉप 10 में शामिल हुए थे। इस साल यानी 1 जनवरी से अब तक उनकी संपत्ति में 2.73 लाख करोड़ रुपए का इजाफा हुआ है। ब्लूमबर्ग की लिस्ट में शामिल 500 अमीरों में से अकेले अर्नाल्ट ही हैं, जिन्होंने इतने कम समय में अपनी संपत्ति में इतना बड़ा इजाफा किया।
दुनिया के 5 सबसे बड़े अमीर
जेफ बेजोस, अमेजन (अमेरिका)
बर्नार्ड अरनॉल्ट, एलवीएमएच (फ्रांस)
बिल गेट्स, माइक्रोसॉफ्ट (अमेरिका)
वॉरेन बफे, बर्कशायर हैथवे (अमेरिका)
मार्क जकरबर्ग, फेसबुक (अमेरिका)

The Hindu

गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण के बाद सरकारी नौकरियों में उम्र में छूट मिलेगी

नरेंद्र मोदी सरकार ने अपने पिछले कार्यकाल में सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 फीसदी आरक्षण का तोहफा दिया था। सरकारी नियुक्तियों में उम्र सीमा बढ़ाने को लेकर सवर्ण वर्ग के लोगों का एक प्रतिनिधिमंडल केंद्रीय सामाजाकि न्याय एवं आधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत से मिला था। इस मुलाकात के बाद गहलोत के मंत्रालय ने कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) को पत्र भेजकर इसपर विचार करने का आग्रह किया है। मोदी सरकार द्वारा सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 फीसदी आरक्षण का प्रावधान देने के लिए कदम उठाया और उसे कानूनी अमलीजामा पहनाने का काम किया। इसके बाद बीजेपी शासित कई राज्यों में सामान्य वर्ग के लिए 10 फीसदी आरक्षण व्यवस्था को लागू कर दिया है। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकारों ने 10 फीसदी सीटें भी अतरिक्त बढ़ा दी हैं। अन्य पिछड़ा वर्ग को उम्र में अधिकतम 3 साल की छूट दी जाती है। अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के अभ्यार्थियों को उम्रसीमा में 5 साल की छूट दी जाती है। अगर यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा को उदाहरण के तौर पर लें, तो इसमें सामान्य वर्ग के अभ्यार्थियों के लिए अधिकतम उम्र सीमा 32 वर्ष है। इस तरह ओबीसी के लिए उम्र सीमा 35 और एससी-एसटी के लिए अधिकतम उम्र सीमा 37 साल है।

The Hindu

रोहित शर्मा विश्व कप-2019 में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बने

वर्ल्ड कप 2019 का सफर इंग्लैंड के विश्व चैंपियन बनने के साथ खत्म हो गया। लगभग डेढ़ महीने तक चले इस विश्व कप में कुल 48 मुकाबले खेले गए। इस वर्ल्ड कप में 3 ही ऐसे खिलाड़ी रहे जिन्होंने 600 रन का आंकड़ा पार किया, वहीं 4 खिलाड़ियों ने 500 से अधिक रन बनाए। वर्ल्ड कप 2019 की सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में भारतीय टीम के उप कप्तान रोहित शर्मा का नाम शीर्ष पर है। रोहित शर्मा इस वर्ल्ड कप में बेहतरीन फॉर्म में दिखे और उन्होंने रिकॉर्ड 5 शतकों की मदद से 9 इनिंग में 648 रन बनाए। इस दौरान रोहित शर्मा का औसत 81 का रहा। रोहित ने इस वर्ल्ड कप में सबसे अधिक चौके लगाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। रोहित के नाम इस वर्ल्ड कप में रिकॉर्ड 67 चौके वहीं इस वर्ल्ड कप में उन्होंने 14 गगन चुंबी छक्के भी लगाए। रोहित अगर इस वर्ल्ड कप में 26 और रन बना लेते तो वह सचिन का 16 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ सकते थे। सचिन के वर्ल्ड कप 2003 में सबसे अधिक 673 रन बनाए थे। इसके साथ ही रोहित शर्मा दुनिया के पहले ऐसे खिलाड़ी बन गए हैं जिन्होंने एक विश्व कप संस्करण में 5 शतक जड़ दिए। इससे पहले उन्होंने टूर्नामेंट में चौथा शतक जड़ने के बाद कुमार संगकारा की बराबरी की थी जिन्होंने 2015 विश्व कप में सर्वाधिक 4 शतक जड़े थे। अब रोहित उनसे भी आगे निकल गए हैं। वहीं इस सीजन में इस मामले में दूसरे नंबर पर डेविड वार्नर रहे जिन्होंने दस मैचों में 71.88 की औसत से 647 रन बनाए।
इंग्लैंड के कप्तान मॉर्गन ने इस विश्व कप में सबसे ज्यादा 22 छक्के लगाए। दूसरे नंबर पर 18 छक्कों के साथ आरोन फिंच रहे वहीं रोहित इस मामले में तीसरे नंबर पर रहे। रोहित ने इस वर्ल्ड कप में कुल 14 छक्के लगाए।

The Hindu