14 May, 2019

नाबार्ड ने ग्रामीण स्टार्टअप इकाईयों में 700 करोड़ रुपये निवेश किया

राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) ने कृषि एवं ग्रामीण क्षेत्र की स्टार्टअप कंपनियों में इक्विटी निवेश के लिए सोमवार को 700 करोड़ रुपये के उद्यम पूंजी कोष की घोषणा की। नाबार्ड अभी तक अन्य कोषों में योगदान करता है । यह पहली बार है कि जब उसने अपना कोष पेश किया है। एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि नाबार्ड की अनुषंगी कंपनी नैबवेंचर्स ने यह कोष पेश किया है। इसके लिए प्रस्तावित राशि 500 करोड़ रुपये है जबकि 200 करोड़ रुपये का ओवर-सब्सक्रिप्शन का विकल्प है। इससे कृषि से सम्बंधित स्टार्ट-अप्स को बढ़ावा मिलेगा, जिससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था को भी काफी लाभ मिलेगा। इस कोष से भारत में कृषि , खाद्य एवं ग्रामीण आजीविका जैसे क्षेत्रों में निवेश तंत्र को बड़ा फायदा मिलने की उम्मीद है। नाबार्ड ने अब तक 16 वैकल्पिक निवेश कोष में 273 करोड़ रुपये का योगदान किया है।

The Hindu

टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली को सिएट अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर चुना

टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली को आज यहां वर्ष 2017-18 के लिये वर्ष का सिएट अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर चुना गया। यह तीसरा अवसर है जबकि उन्होंने यह पुरस्कार हासिल किया। कोहली इससे पहले वर्ष 2011-12 और 2013-14 में भी यह पुरस्कार हासिल कर चुके हैं। वहीं भारत के ही जसप्रीत बुमराह को साल का सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय गेंदबाज चुना गया है। टायर निर्माता कंपनी सीएट ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को सीएट क्रिकेट रेटिंग्स इंटरनेशनल अवार्ड्स (2019) से सम्मानित किया है।
अवॉर्ड   -   खिलाड़ी
इंटरनेशनल क्रिकेटर ऑफ द ईयर - विराट कोहली
बैट्समैन ऑफ द ईयर - विराट कोहली
वूमन क्रिकेटर ऑफ द ईयर - स्मृति मंधाना
वनडे क्रिकेटर ऑफ द ईयर - रोहित शर्मा
टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर - चेतेश्वर पुजारा
बॉलर ऑफ द ईयर - जसप्रीत बुमराह
आउटस्टैंडिंग परफॉरमेंस ऑफ द ईयर - कुलदीप यादव
इंटरनेशनल टी-20 प्लेयर ऑफ द ईयर - एरॉन फिंच
इंटरनेशनल टी-20 बॉलर ऑफ द ईयर -  राशिद खान
जूनियर क्रिकेटर ऑफ द ईयर - यशस्वी जयसवाल
डोमेस्टिक क्रिकेटर ऑफ द ईयर - आशुतोष अमन

The Hindu

दूरदर्शन ने एक ऑनलाइन स्मारिका स्टोर शुरू किया

दूरदर्शन ने अमेज़न इंडिया पर अपने दर्शकों के लिए एक ऑनलाइन स्मारिका स्टोर शुरू किया है ताकि कोई भी इसे आसानी से देख सके। ए. सूर्य प्रकाश अध्यक्ष, प्रसार भारती ने अमेज़न इंडिया पर डीडी स्मारिका स्टोर लॉन्च किया।

दूरदर्शन भारत का पहला ब्रॉडकास्टर है जिसने स्मारिका स्टोर शुरू किया है। ऑनलाइन स्मारिका स्टोर न केवल दर्शकों के साथ संबंध को मजबूत करेगाए बल्कि दूरदर्शन ब्रांड मूल्य स्थापित करने में भी मदद करेगा। यह विचार 1980 और 90 के दशक में मालगुडी डेज़, रामायण और महाभारत जैसे शो देखते हुए बडे हुए दर्शकों के साथ और भी मजबूत संबंध स्थापित करने के लिए है।

The Hindu

एयरटेल ने एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस के साथ साझेदारी की घोषणा की

प्रमुख दूरसंचार सेवा प्रदाता भारती एयरटेल (Bharti Airtel) और देश में निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी गैर-बैंक जीवन बीमा कंपनी एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस (HDFC Life Insurance) ने साझेदारी की है।

दोनों कंपनियों ने तकनीक और मोबाइल सेवाओं के विस्तृत नेटवर्क का लाभ उठा कर भारत को आर्थिक रूप से सुरक्षित बनाने के लिए हाथ मिलाया है। एयरटेल के नये 249 रूपये-प्रीपेड बंडल (जिसमें 2 जीबी डेटा, नेटवर्क पर असीमित कॉल और प्रति दिन 100 एसएमएस) के साथ, एचडीएफसी लाइफ की ओर से 4 लाख रुपये का कवर भी दिया जाएगा।

The Hindu

दिल्ली की वायु गुणवत्ता ‘बेहद खराब” की श्रेणी में

दिल्ली की वायु गुणवत्ता ‘बेहद खराब” की श्रेणी में दर्ज की गई लेकिन बादल गरजने के साथ हुई बारिश के चलते प्रदूषण का स्तर कम होने की संभावना है। केंद्र सरकार द्वारा संचालित संस्था ‘सफर’ ने सोमवार को यह जानकारी दी। वायु गुणवत्ता तथा मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान संस्था (सफर) के मुताबिक वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) बुधवार को 339 दर्ज किया गया जो ‘बेहद खराब’ की श्रेणी में आता है। वहीं केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भी एक्यूआई 339 दर्ज किया गया है। 0 और 50 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक को ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ श्रेणी का माना जाता है।

The Hindu

भारत को CTBTO में पर्यवेक्षक सदस्य बनने के लिये आमंत्रित किया

हाल ही में व्यापक परमाणु परीक्षण प्रतिबंध संधि संगठन (Comprehensive Nuclear Test Ban Treaty Organization- CTBTO) ने भारत को CTBTO में पर्यवेक्षक सदस्य बनने के लिये आमंत्रित किया है।  प्रेक्षक होने के नाते, भारत को अंतर्राष्ट्रीय निगरानी प्रणाली के डेटा तक पहुंच प्रदान की जाएगी, जब पूरा 89 देशों में स्थित 337 सुविधाओं से युक्त होगा।

The Hindu

DRDO ने अभ्यास ड्रोन की उड़ान का सफल परीक्षण किया

डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन यानी डीआरडीओ ने हाईस्पीड ड्रोन का सफल परीक्षण किया है। इस ड्रोन का नाम ABHYAS यानी हाई स्पीड एक्पेंडेबल एरियल टारगेट ड्रोन है। उड़ीसा के चांदीपुर में इस ड्रोन का सफल परीक्षण किया गया। डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन यानी डीआरडीओ ने हाईस्पीड ड्रोन का सफल परीक्षण किया है। इस ड्रोन का नाम ABHYAS यानी हाई स्पीड एक्पेंडेबल एरियल टारगेट ड्रोन है। उड़ीसा के चांदीपुर में इस ड्रोन का सफल परीक्षण किया गया।
रक्षा अनुसन्धान व विकास संगठन (DRDO) की स्थापना 1958 में की गयी थी, इसका मुख्यालय नई दिल्ली के DRDO भवन में स्थित है। यह भारत सरकार की एजेंसी है। यह सैन्य अनुसन्धान तथा विकास से सम्बंधित कार्य करता है। DRDO का आदर्श वाक्य “बलस्य मूलं विज्ञानं” है। DRDO में 30,000 से अधिक कर्मचारी कार्य करते हैं। वर्तमान में DRDO के चेयरमैन डॉ. जी. सतीश रेड्डी हैं। DRDO का नियंत्रण केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय के पास है। DRDO की 52 प्रयोगशालाओं का नेटवर्क है।

The Hindu

जीएस लक्ष्मी बनी ICC एलीट पैनल में शामिल होने वाली पहली महिला मैच रेफरी

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने मंगलवार को भारत की जीएस लक्ष्मी को अपने मैच रेफरी के इंटरनेशनल पैनल में जगह दी है। वो इस पैनल में जगह पाने वाली पहली महिला हैं। आईसीसी की तरफ से बताया गया कि लक्ष्मी तत्काल प्रभाव से अंतरराष्ट्रीय मैचों में रेफरी की भूमिका निभाने के योग्य हो गई हैं। लक्ष्मी से पहले इसी महीने क्लेयर पोलोसक पहली बार पुरुष वनडे मैचों का प्रतिनिधित्व करने वाली पहली महिला अंपायर बनी थीं। 51 वर्षीय लक्ष्मी घरेलू महिला क्रिकेट में 2008-09 के दौरान मैच रेफरी के पद पर रह चुकी हैं। इसके अलावा वह तीन महिला वनडे मैचों और इतने ही महिला टी-20 मैचों में भी रेफरी की भूमिका निभा चुकी हैं।

The Hindu

इसरो ने “युविका 2019” कार्यक्रम का उद्घाटन किया

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष डॉ के सिवन ने सोमवार को कहा कि एजेंसी की प्रस्तावित छात्र संपर्क पहल ‘ युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम’ (युविका) के प्रति जबर्दस्त उत्साह है और वह हर साल इसे आयोजित करने पर विचार कर रही है। उन्होंने यहां बताया कि इस साल के कार्यक्रम के लिए चयन प्रक्रिया पूरी हो गयी है और 29 राज्यों एवं सात केंद्रशासित प्रदेशों से तीन-तीन विद्यार्थी सहभागी चुने गये हैं। यह कार्यक्रम मई के दूसरे हफ्ते में होने की संभावना है। युवा विज्ञानी कार्यक्रम के लिए इसरो देश भर से 100 छात्रों को चुनेगा और उन्हें सैटेलाइट निर्माण की व्यवहारिक प्रक्रिया के बारे में बताया जायेगा। इस कार्यक्रम के लिए प्रति वर्ष प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश से तीन छात्रों को चुना जायेगा, इसमें सीबीएसई, ICSE तथा राज्य पाठ्यक्रम पर आधारित छात्रों को शैक्षणिक प्रदर्शन तथा अन्य गतिविधियों के आधार पर छात्रों का चयन किया जायेगा। युवा विज्ञानी कार्यक्रम में दो सप्ताह के आवासीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। इसका आयोजन ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान किया जायेगा। इसमें 8वीं पूरी कर चुके तथा 9वीं कक्षा में अध्ययन कर रहे छात्रों को चुना जायेगा।

The Hindu